एक मुलाकात                        खास बात

ऐसी कोई समस्य नही जो रेकी से दूर नही हुई हो रेकी बो सक्ति है जो बड़ी से बड़ी समस्य भी दूर कर देती है —– निकिता शर्मा

विनोद चढ़ा कुठेड़ा विलासपुर

मुकालात खास बात में इस बार एक ऐसे सख्सियत से रूबरू रूह करवाने जा रहे है जिन्होंने अपने बलबूते पर इस युग में बडी से बड़ी प्रॉब्लम को चुटकियों में दूर कर देती है । निकिता जो की चंडीगढ में रहती है उन्होंने FNI न्यूज़ चैनल के हिमाचल बिर्रो चीफ विनोद चड्ढा से बात की और बताया कि जिस मनुष्य को बिजनेश में हानि हो रही हो घर में हमेसा क्लेश रहता हो घर में या बिजनेश में जादू टोना हो या कई और प्रकार की समस्य हो बो तुरन्त अपने बैज्ञानिक तरीके से उस का समाधान बता कर उन लोगो को परेशानियां दूर कर देती है जो जिंदगी में हर क्षेत्र में निराश हो चुके है ।उनके लिए एक किरण बनकर सामने आई निकिता शर्मा

उसके बाद उन्होंने रिकी हिलींग एण्ड माइंड पावर के की अविष्कारों को जाना हो आज उनके जहरिये न जाने कितने लोगो की जिंदगी में नई लौ बन कर आई निकिता शर्मा
निकिता शर्मा ने बताया 1994 वे अपने मन की शक्ति से खुद काम कर रही थी उन्हें एक विश्वास जो सब कुछ जादू ताकत सा महसूश होता था कुछ बातें जो उन्हें पहले ही दिखने लगती थी वह क्या था पता नहीं लेकिन 2001 में उन्होंने रेकी का नाम सुना और इसको सीखा कि किस तरह से काम किया जाता है ।उन्होंने इसकी गहराई को समझने की कोशिश की धीरे-धीरे एक अलग सी शक्ति महसूश करने लगी उन्होंने रेकी में 41 दिन का अनुभव प्राप्त किया 41 दिन प्रैक्टिस के बाद आगे बढ़ी तो सर में दर्द हुआ तो उन्होंने बताया डॉ पूनम शर्मा जो कि रिंकी की मास्टर थी उन्होंने वह दर्द तुरंत ठीक किया जो एक चमत्कार लगा उन्होंने बताया की उन्होंने इसमे और ज्यादा सीखना शुरू किया ।बढ़ते बढ़ते पता चला कि किस प्रकार लोगों की जिंदगी में मुश्किलों को उन्होंने चुटकी भर में समाधान कर दिया उन्होंने बताया कि से अब कुछ भी करना संभव हो सकता है ।

उन्होंने बताया कि रेकी मैं अनुभव प्राप्त करने के बाद उन्होंने अपना पूरा जीवन लोगों के लिए समर्पित कर दिया रेकी के बारे में उन्होंने बताया कि या एक मास्टर पावर प्रोसेसर है जो कि एक ऐसी एनर्जी है जो पूरे ब्रह्मांड में बसी है बस उसे समझना और उस पर विश्वास करना लोगो को आना चहिये जिसके लिए बो दिन रात काम कर रही है।


पिछले 19 सालों से बो रेकी के काम से जुड़ी हैं उन्होंने बताया कि रेकी से उन्होंने कई बिगड़े हुए परिवार के लोगो को एक किया है बहुत से लोगों का बिजनेस जो घाटे में चल रहे थे उन्हें रेकी से ठीक किया । और बहुत सारे लोगों का जो भी कार्य नही हो रहे थे बो अब रेकी से सम्भब है


उन्होंने यह भी बताया कि बो 11 सालों से चंडीगढ़ में काम कर रही हैं अब हिमाचल के लोगों के लिए वह सोलन में अपना कार्य शुरु कर रही है और लोगो से ऊमीद की है कि बो उनके उमीदों पर खरा उतरेंगी और लोगो की समस्यों के लिए दिन रात उनकी सेबा में अपना जीबन ब्यतीत करेंगी

जानते है इनकी बाते इन्ही की जुबानी

रेकी क्या है ?

मनुष्य हमेशा से सुख,शांति,समृधि व आनन्द की अभिलाषा करता है, जीवन में इन्ही को पाने का सच्चा सरल व सात्विक मार्ग रेकी हमे दिखाती है, रेकी ब्रहाण्ड की ऐसी शक्ति है जो हर इन्सान में छिपी होती है, और वो खुद इनसे अनभिज्ञ होता है। रेकी की हमारी कार्यशाला में इसी शक्ति को जाग्रत किया है।

इस क्षेत्र में आप कब और कैसे आईं ?

2006 में एक सडक दुर्घटना में मुझे सर पर चोट लगी। उस समय मेरी रेकी मास्टर डॉ रेखा सोनी ने मुझे रेकी की। उनके हाथ रखते ही मेरा दर्द गायब हो गया। तब ऐसा लगा रेकी शक्ति एक जादू है,रेकी कुछ भी क्र सकती है, इसके अच्छे अनुभव के बाद रेकी सिखने की इच्छा जाग्रत हुई।

समाज में इसका क्या योगदान है?

समाज कई परिवारों से मिलकर बनता है और परिवारों के व्यक्तियों से। रेकी के जरिये व्यक्ति अपनी नकारात्मक सोच और भावनाओ से मुक्त होता है। इसी तरह एक व्यक्ति से परिवार व समाज सकारात्मक से प्रगतिशील होते है, इस तरह से रेकी का समाज में बड़ा महत्वपूर्ण योगदान है।

निकिता, रेकी मास्टर डॉ रेखा सोनी के साथ

आपकी सेवाए क्या-क्या हैं? हमारी रेकी स्पर्श चिकित्सा, रेकी दुरुस्थ उपचार चिकित्सा, मेग्नीफाईड़ हीलिंग, क्रिस्टल हीलिंग, टेरोट रीडिंग, नाड़ीशास्त्र, अंकशास्त्र,भावनाए मुक्ति तकनीक, अपनी छिपी शक्तियों को पहचानना, तनाव और क्रोध कार्पोरेट रेकी(स्कूल, कालेज, हास्पिटल, कम्पनी और सामाजिक संस्थाओ के लिए है)

आपकी भावी योजनायें क्या है?

बीमारी का मूल कर्ण हमारी शारीरिक नही बंकि मानसिक परेशानी होती है। हमारी नकारात्मक सोच एक बीमारी बन जाती है। में भविष्य में हर इन्सान को नकारात्मक सोच से मुक्त करवाना चाहती हु, जेसा की मेरे सेंटर का नाम है आरोग्य मतलब रोग खी भी नही न शारीरिक न मानसिक एक और उद्देश्य है, जैसे कार्पोरेट में भी लोग परेशानियों से घिरे रहते है, तो उनको भी मोटिवेशनल ट्रेनिग दू,जिससे की वह हमारा अभिन्न अंग बन जाए।

आप दुनिया को क्या संदेश देना चाहेंगी?

सब भाग रहे है, कोई पैसो के पीछे, कोई रिश्तो के पीछे, कोई करियर के पीछे, इस भागदौड़ में हम क्या है,यह सब भूल गए है सबसे यही कहना चाहुगी इस भाग दोड़ भरी जिन्दगी में वो है अपने अंदर छिपी शक्ति उसे पहचानो फिर आगे बढो।जिसे हम ढूंढ़ रहे है वह हमारे अंदर ही है।उसे जाग्रत करो।

आप अपनी सफलता का श्रेय किसे देंगी?

अपनी सफलता का श्रेय में अपनी माता व बहन को दूंगी। उन्होंने मुझे हमेशा आगे बढने के लिए प्रेरित किया व आर्थिक व मानसिक रूप से हमेशा सहायता की है।

Related Post

नक्सलाइट निर्देशिका पायल कश्यप से एफ एन आई से एक खास बातचीत{न्यूज़ सब्क्राइब करें}खास इंटरव्यू पड़े

Posted by - November 11, 2018 0
नक्सलाइट’ की निर्देशिका पायल कश्यप से एफ एन आई से एक खास बातचीत फ्रंट न्यूज़ ऑफ इंडिया हिमाचल संवाददाता विनोद…

विधायक राजयादा के नेतृत्व में गरजे आईओसीएल के कामगार

Posted by - October 22, 2018 0
विधायक राजयादा के नेतृत्व में गरजे आईओसीएल के कामगार एफ़ एन आई हिंदी न्यूज़ हिमाचल संवाददाता विनोद चड्ढा कुठेड़ा हिमाचल…

डेवलपमेंट जरूरी है, मगर डेवलपमेंट के कारण कैंसर हमें नहीं चाहिए : राजेश शर्मा

Posted by - June 4, 2019 0
डेवलपमेंट जरूरी है, मगर डेवलपमेंट के कारण कैंसर हमें नहीं चाहिए : राजेश शर्मा विनोद चड्ढा कुठेड़ा बिलासपुर विश्‍व पर्यावरण…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *