Breaking News

ग्राम पंचायत सालियर साल्हापुर प्रधान पर मनरेगा मजदूरों ने पैसे गबन करने के साथ सड़को व शौचालय में धांधली का लगाया आरोप

284 0

ग्राम पंचायत सालियर साल्हापुर प्रधान पर मनरेगा मजदूरों ने पैसे गबन करने के साथ सड़को व शौचालय में धांधली का लगाया आरोप

रुड़की ब्लॉक की
ग्राम पंचायत सालियर साल्हापुर ग्राम प्रधान पर मनरेगा मजदूरों ने मजदूरी गबन का गंभीर आरोप लगाया है उन्होंने बताया कि ग्राम प्रधान ने हमारी मेहनत मजदूरी का पैसा गबन कर लिया है बार-बार पैसा मांगने पर भी ग्राम प्रधान हम लोगों को गुमराह कर रही है लगातार कहां जा रहा है कि तुम्हारा पैसा तुम्हारे अकाउंट में आ जाएगा लेकिन कुछ मजदूर द्वारा अकाउंट चेक कराने पर अकाउंट में कोई पैसा नहीं आया है फिर ग्राम प्रधान से पता करने पर उन्होंने कहा कि तुम्हारा पैसा जल्द आ जाएगा और बार-बार यही आश्वासन दिया गया मजदूरों का जब पैसा अकाउंट में नहीं आया तो किसी की मदद से ऑनलाइन पैसा चैक किया गया जिसमें यह खुलासा हुआ है कि ग्राम प्रधान द्वारा फर्जी अकाउंट खोल कर उससे सभी मजदूरों का पैसा निकाला जा रहा है इस बात से पीड़ित होकर मजदूरों ने मुख्य विकास अधिकारी को लिखित में अवगत कराते हुए तत्काल इस पूरे मामले की जांच करने की मांग की थी उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की वजह से अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया मजदूरों का कहना है कि लॉकडाउन के चलते ग्राम प्रधान से हमे कोई फायदा नही हुआ है और ना ही किसी तरह की कोई राशन सामग्री की मदद दी गई है और हम मनरेगा मजदूरों के सामने भुखमरी का संकट खड़ा हो गया है वहीं समाजसेवी मोनिका ने ग्राम प्रधान पर मजदूरों का उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुए बताया है कि ग्राम प्रधान द्वारा मनरेगा मजदूरों की मजदूरी के साथ साथ शौचालय और सड़कों में भी बड़ा घोटाला किया गया है मोनिका ने कहा है कि कुछ लोगो को कागजों में डबल शौचालय देना भी सामने आया है जो जनता की आंखों में धूल झोंकने के साथ-साथ सरकार की आंखों में भी धूल झोंकने का काम है उन्होंनेे कहा कि ब्लॉक के अधिकारी भी भ्रष्टाचारी के मामले में लिप्त है 25 पत्र देने के बाद भी इस पूरे मामले को घुमाया जा रहा है। समाजसेवी मोनिका और सभी मनरेगा मजदूरों ने कहा है कि इस पूरे मामले को लेकर जल्द ही वह जिलाधिकारी हरिद्वार से मुलाकात कर भरष्टाचार के मामले से अवगत कराएंगे मामले का निस्तारण नहीं होता है तो वह आंदोलन करने पर मजबूर होंगे वहीं बीडीओ ब्लॉक रुड़की संतोष रौतेला से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि यह पहला मामला है और पैसों का कोई गबन नहीं हुआ है और इसमें मैंने जांच कराई है जांच की रिपोर्ट आते ही आपको अवगत कराया जाएगा लेकिन जब जिलाधिकारी के आदेश होने की बात कही गई तो उन्होंने कहा है कि हां आदेश तो हुआ है और इसमें में जल्द ही लोकपाल आयोग द्वारा ग्राम पंचायत में जाकर जांच कराई जाएगी जांच के बाद ही आपको पूरी डिटेल दी जायेगी।बीडीओ संतोष रौतेला ने यह भी कहा है कि यह 2011 का मामला है जो कि बहुत पुराना है। वीडीओ कालूराम त्यागी नेे बताया कि अभी जांच नहीं हुई है और प्रधान से इसका जवाब मांगा गया है यह मामला मेरे से पहला है मैैं 2018 में यहां आया था। और ना ही मुझे किसी के अकाउंट खुलने का पता है और यह जानकारी आप प्रधान से प्राप्त करेें। वीडीओ त्यागी से फर्जी अकाउंट खोलने पर पूछा गया तो उन्होंने कहा है कि कोई फर्जी अकाउंट नहीं खुला है और बिना व्यक्ति के अकाउंट खुल ही नहीं सकता है वहीं प्राप्त जानकारी से पता चला है कि इसी संबंध से जुड़ा फर्जीवाडे का एक मामला ओर सामने आया है कि फर्जी तरीके से एक अकाउंट से पैसे निकालने को लेकर पीड़िता द्वारा मुकदमा भी दर्ज कराया गया था और एक मिनी बैंक के कर्मचारी को भी निलंबित किया गया था यह भी जानकारी हाथ लगी है कि ओबीसी को एससी में दर्शा कर फर्जी अकाउंट खोला गया था और 11400 की धनराशि निकाली गई थी इस संबंध में वीडीओ कालूराम का कहना है कि मैं कुछ नहीं जानता यह मामला 2017 का है आपको बता दे कि इसका खुलासा सूचना अधिकार से प्राप्त हुआ था वीडीओ कालू राम त्यागी से इस विषय में बात की गई और जांच कब तक होगी पता किया गया तो उन्होंने कहा है कि अभी कोई जांच नहीं हुई है और प्रधान से जवाब तलब किया गया है मामला लोकपाल आयोग में है और हम साफ-सुथरी छवि वाले व्यक्ति है और सही जानकारी आपको ग्राम सचिव अशोक कुमार देंगे जो अब नारसन ब्लॉक में है कालूराम त्यागी का यह भी कहना है कि 7 से 8 व्यक्तियों ने प्रधान के पक्ष में एफिडेविट भी दिए हैं और 10 लोग है जो विरोध कर रहे है आपके बता दे कि जैसे भ्रष्टाचारी के परिक्रमण में अधिकारी कर्मचारी कोई ठोस जवाब नहीं दे पा रहे हैं इससे आशंका जताई जा रही है कि कही न कही ग्राम प्रधान और अधिकारियों की मिलीभगत के शिकार मनरेगा मजदूर हुए है अब देखना होगा कि आखिरकार आला अधिकारी कब तक इस भ्रष्टाचारी के खेल को दूध का दूध पानी का पानी करते हैं और भ्रष्टाचारी में लिप्त लोगों पर किस तरह की कार्रवाई करते है । सालियर ग्राम प्रधान श्रीमती मोनिका सैनी से जब इस मामले पर बात करना चाही तो उन्होंने खुद बात ना करते हुए अपने प्रतिनिधि से बात कराई है प्रतिनिधि सेठराज का कहना है कि यह सब आरोप झूठे लगाये गये है और कोई फर्जीवाड़ा नहीं किया गया है हम लोगों को बदनाम करने का षड्यंत्र रचा जा रहा है किसी जमीन के मामले को लेकर रंजिश चल रही है सेठराज का ये भी कहना है की कई बार पहले भी गांव में जांच कराई गई है और आप पूरे गांव वालों से भी जानकारी कर सकते हो और पत्रकारों से भी प्रधान से बात करवाने को कहा गया तो सेठराज ने कहा है की प्रधान से भी जल्द ही बात करा दी जाएगी हालाकी जमीन का मामला अगर है तो वह चकबंदी अधिकारियों से जूड़ा है मगर मनरेगा मजदूरों का जो मामला है चाहे मनरेगा का हो या फिर शौचालय सड़कों का वह ग्राम प्रधान से जुड़ा है जिसमें प्रधान द्वारा कोई स्पष्ट जवाब नहीं मिल पा रहा है

Related Post

श्रीमती प्रीति प्रियदर्शिनी पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ द्वारा तीन योद्धाओं को कोरोना वॉरियर घोषित कर किया सम्मानित

Posted by - May 31, 2020 0
श्रीमती प्रीति प्रियदर्शिनी पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ द्वारा तीन योद्धाओं को कोरोना वॉरियर घोषित कर किया सम्मानित पुलिस अधीक्षक महोदया ने…

3 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को संयुक्त रूप से ज्ञापन प्रेषित किये

Posted by - June 3, 2020 0
3 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को संयुक्त रूप से ज्ञापन प्रेषित किये हरिद्वार 3…

थाना बहादराबाद क्षेत्र में मस्जिदों पर ड्रोन कैमरे से की गई निगरानी

Posted by - May 1, 2020 0
थाना बहादराबाद क्षेत्र में मस्जिदों पर ड्रोन कैमरे से की गई निगरानी आज दिनांक 1/05/2020 को थानाध्यक्ष बहादराबाद द्वारा रमजान…

पुलिस अधीक्षक गढ़वाल दिलीप सिंह कुंवर ने कोविड-19 की ड्यूटी के दौरान संक्रमण बचाव के संबंध मे समस्त अधिकारियों को किया ब्रीफ

Posted by - May 31, 2020 0
पुलिस अधीक्षक गढ़वाल दिलीप सिंह कुंवर ने कोविड-19 की ड्यूटी के दौरान संक्रमण बचाव के संबंध मे समस्त अधिकारियों को…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *