पूर्व वित्त मंत्री के निधन पर एक दिन का राजकीय शोक घोषित

181 0

देश भर में शोक की लहर पूर्व वित्त मंत्री के निधन पर एक दिन का राजकीय शोक घोषित

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर 1 दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा आपको बता दें कि श्री अरुण जेटली पूर्व वित्त मंत्री वित्त मंत्रालय भारत सरकार के निधन पर दिनांक 25 0819 रविवार को 1 दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है साथ ही राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा राजकीय शोक के दिन कोई भी साथ किए मंजन के कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के एम्स में निधन हो गया है वह लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे थे उन्होंने लगभग 12 बजे अंतिम सांस ली वह 66 साल के थे जिनको सांस लेने में तकलीफ हो रही थी जिसके चलते अरुण जेटली को एम्स में भर्ती कराया गया था जहां उन्हें अनुभवी डॉक्टरों की टीम की देखरेख में उनका इलाज किया जा रहा था. शनिवार सुबह ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन उन्हें देखने पहुंचे थे उनका अंतिम संस्कार रविवार को दिल्ली के निगम बोध घाट पर किया गया

वही उत्तराखंड
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी गहरा दुख व्यक्त किया

और ईश्वर से उनकी दिव्यंगत आत्मा को शांति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की साथ-साथ उन्होंने कहा है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली के कार्यकाल में देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने में उनका बड़ा योगदान रहा और एक कुशल वित्त मंत्री के नाते उनकी अलग पहचान रही है अपने कार्यकाल में ऐसे कार्यों पर निर्णय लिया जो हमेशा यादगार रहेंगे
__________________________________________
ये भी पड़े ~~

अरुण जेतली का जन्म दिल्ली में महाराज किशन जेटली और रतन प्रभा जेटली के घर में हुआ।[3] उनके पिता एक वकील हैं,[4] उन्होंने अपनी विद्यालयी शिक्षा सेंट जेवियर्स स्कूल, नई दिल्ली से 1957-69 में पूर्ण की।[5] उन्होंने अपनी 1973 में श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, नई दिल्ली से कॉमर्स में स्नातक की। उन्होंने 1977 में दिल्ली विश्‍वविद्यालय के विधि संकाय से विधि की डिग्री प्राप्त की।
 छात्र के रूप में अपने कैरियर के दौरान, उन्होंने अकादमिक और पाठ्यक्रम के अतिरिक्त गतिविधियों दोनों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के विभिन्न सम्मानों को प्राप्त किया हैं। वो 1974 में दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र संगठन के अध्यक्ष भी रहे।

अरुण जेटली ने 24 मई 1982 को संगीता जेटली से विवाह किया। उनके दो बच्चे, पुत्र रोहन और पुत्री सोनाली हैं।

_______________________________
अरुण जेटली का दिल्ली के एम्स में निधन

66 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

9 अगस्त को दिल्ली के एम्स में भर्ती हुए थे जेटली
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

Related Post

शहरी विकास मंत्री उत्तरखण्ड सरकार श्री मदन कौशिक ने स्थानीय नागरिकों के साथ ज्वालापुर स्थित सीएचसी सेंटर पर एकत्र हो माननीय प्रधानंमत्री का सम्बोधन सुना।

Posted by - September 15, 2018 0
फ्रंट न्यूज़ ऑफ इंडिया———– हरिद्वार। भारत सरकार द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रेरणा से प्रेरित ’स्वच्छता ही सेवा’ अभियान की…

किसानों ओर महिलाओं को आर्थिकी मजबूत के लिए प्रोत्साहित किया

Posted by - February 17, 2020 0
fni news: हरिद्वार। सहकारिता विभाग के सहकारी व्यापार मेले के अंतिम दिन मेले का समापन सांस्कृतिक कार्यकमों ओर मेले में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *